What is Ayushman Bharat Yojana in Hindi (ABY)?

आयुष्मान भारत योजना के तहत देश के गरीब, वंचित और कमजोर तबके के 10 करोड़ परिवारों को स्वास्थ्य बीमा की सुविधा मिलती है. इस योजना के तहत इन परिवारों को यानी 50 करोड़ लोगों सालाना 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा मिलता है. हालांकि इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपके पास कुछ पात्रताएं होना जरूरी है. आयुष्मान भारत योजना या प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, भारत सरकार की एक स्वास्थ्य योजना है, जिसका उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों खासकर बीपीएल धारक को हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम मुहैया कराना है.

Table of Contents

What is Ayushman Bharat Yojna in Hindi

आयुष्मान भारत योजना प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना है. इस योजना के तहत देश के गरीब, आर्थिक कमजोर तबके और वंचित लोगों को स्वास्थ्य सुविधा दी जाती है. आयुष्मान भारत योजना (ABY) का लाभ, गरीब, वंचित ग्रामीण, शहरी श्रमिक और आर्थिक रूप से बेहद कमजोर शहरी परिवार इस योजना के पात्र हैं. दरअसल, 2011 में की गई सामाजिक आर्थिक जाति जनगणना (SECC-2011) के डेटाबेस में जिन व्यक्तियों के नाम मौजूद हैं, वे खुद-ब-खुद आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के पात्र हैं. PM-JAY का लाभ लेने के लिए परिवार के आकार या उम्र की कोई सीमा तय नहीं की गई है. योजना के लाभ पूरे देश में कहीं भी लागू करे जा सकते है, और इस योजना के अंतर्गत आने वाले लाभार्थी को देश भर के किसी भी सार्वजनिक या निजी अन्तर्गत अस्पताल से कैशलेस (बिना पैसे दिये) लाभ लेने की अनुमति होगी.

केंद्र सरकार इस योजना में देशभर के 10 करोड़ परिवारों को स्वस्थ्य बीमा देने का काम कर रही है. जिसकी मदद से परिवार का कोई भी सदस्य सालाना 5 लाख रुपए तक का कैशलेश इलाज करवा सकता है. सितंबर 2018 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आयुष्मान भारत योजना का शुरुआत किया है. जिसके तहत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के नाम से लोगों को स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध करवाया जा रहा है.

ayushman bharat yojna
Ayushman Bharat Yojna

भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से शुरू की गई एक बहुत बड़ी महत्वाकांक्षी स्वास्थ्य बीमा योजना (हेल्‍थ इंश्‍योरेंस प्रोग्राम) है. 1 फरवरी 2018 को केंद्र सरकार का बजट पेश करते हुए वित्तमंत्री अरुण जेटली ने इस कार्यक्रम के बारे में बताया था, और ये योजना सितंबर से शुरू हो गई थी. यह वास्तव में देश के गरीब लोगों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम है. कई ऐसी Insurance Companies है जो हेल्थ इंश्योरेंस बेच रही है लेकिन, यहां से बीमा करवाना सभी लोगों के हैसियत से बहार है. शायद इसी वजहों को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आयुष्मान भारत योजना शुरू किये.

Ayushman Bharat Yojana (ABY) के तहत देश के 10 करोड़ 74 लाख परिवारों को 5 लाख रुपये स्वास्थ्य बीमा के तौर पर मुहैया कराया जाएगा. यानि इन परिवारों को अस्पताल में इलाज कराने का खर्च नहीं देना होगा. ये परिवार पांच लाख रुपए तक का इलाज मुफ्त में करा सकेंगे. हर परिवार में औसतन 5 सदस्यों के हिसाब से, इस योजना से देश के 50 करोड़ से अधिक लोग लाभान्वित हो सकेंगे.

आयुष्‍मान भारत योजना का मुख्य उद्देश्‍य आयुष्‍मान भारत योजना प्रोग्राम 2018 अथवा मोदीकेयर का उद्देश्‍य वर्ष 2025 तक संपूर्ण भारत को रोग मुक्‍त करके व‍िकास के पथ पर ले जाना है.

Ayushman Bharat Yojana (ABY) से फायदा

  • सरकार की तरफ से बीमारियों के लिए तय पैकेज रेट पर इलाज मिलेगा.
  • देश के दूसरे अस्पतालों में भी इलाज की दरें कम कराने में मदद मिलेगी.
  • आईटी प्लेटफॉर्म आयुष्मान भारत योजना के फ्रॉड या गलत इस्तेमाल रोकेगा.
  • राज्य, संघ शासित प्रदेश एक दायरे में ही इलाज के रेट बदल सकेंगे.
  • आयुष्मान भारत योजना में इलाज कराने की पहले से मंजूरी ली जा सकेगी.

लाभार्थी किसी भी तरह की मदद के लिए सरकार द्वारा Ayushman Bharat Yojana (ABY) के लिए जारी हेल्पलाइन नंबर 14555 पर भी कॉल कर सकते हैं. योजना में आपका नाम है या नहीं यह आप www.pmjay.gov.in पर चेक कर सकते हैं.

शेयर मार्केट (Share Market) क्या है? Financial Guide in Hindi

आयुष्मान भारत योजना में कौन-कौन सी बीमारियां शामिल है

  • आयुष्मान भारत योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को हर साल 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा दिया जाएगा.
  • इस योजना में लगभग सभी बीमारियों को कवर किया गया है.
  • योजना में 1350 से ज्यादा बीमारियों के इलाज की सुविधा है.
  • योजना के तहत कार्डियोलॉजी, कैंसर केयर, न्यूरोसर्जरी और निओनेटल जैसी बड़ी बीमारियों को शामिल किया गया है.
  • अस्पताल में एडमिट होने से पहले और बाद के खर्च भी इस स्कीम में कवर किए जाएंगे.
  • योजना में ट्रांसपोर्ट पर होने वाला खर्च भी शामिल है.
  • योजना में मेडिकल जांच,ऑपरेशन, इलाज शामिल होंगे.

Ayushman Bharat Yojana (ABY) पर खर्च होने वाली रकम कहां से आएगी?

  • Ayushman Bharat Yojana (ABY) पर आने वाली लागत राज्य और केंद्र सरकार आपस में बांटेंगी.
  • योजना में राज्य की हिस्सेदारी जरूरी है.
  • राज्य की स्वास्थ्य एजेंसी को केंद्र सरकार एसक्रो अकाउंट से सीधे पैसे भेजेगी.
  • योजना की अनुमानित लागत 12 हजार करोड़ रुपये है.

What is CIBIL SCORE in Hindi सिबिल स्कोर क्या है?

Ayushman Bharat Yojana (ABY) की व‍िशेषताएं

  • सरकार प्रत्‍येक पर‍िवार को 5 लाख प्रदान करेंगी.
  • अस्‍पतालों में व‍िभिन्‍न प्रकार के मेड‍िकल चेकअप मुहैया कराए जायेंगे.
  • इस योजना के त‍हत, ज‍िला अस्‍पतालों में सुव‍िधांए बढ़ाई जाएंगी.
  • टीवी रोगियों के ल‍िए जरुरतमंद सामग्री प्रदान करने के ल‍िए 600 करोड़ आवंट‍ित क‍िए गए हैं.
  • च‍िक‍ित्‍सीय शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए, सरकार ने इस बार 24 नए मेड‍िकल कॉलेज और अस्‍पतालों की स्‍थापना का फैसला किया है.
  • इस योजना का लाभ लेने के ल‍िए 1200 तक का प्रीमियम सालाना भरना होगा.
  • इस योजना के त‍हत व्‍यक्‍त‍ि सरकारी और न‍िजी दोनों अस्‍पतालों में अपना इलाज करवा सकते हैं.

Ayushman Bharat Yojana (ABY) के लिए  जरुरी कागजात

  • बैंक खाता
  • बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना अन‍िवार्य है.
  • आय प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र, आधार कार्ड
  • पैन कार्ड (अतिरिक्त)

Banking Terminology in Hindi बैंकिंग में इस्तेमाल होने वाला कुछ महत्वपूर्ण शब्द

Ayushman Bharat Yojana (ABY) की योग्यता का निर्धारण कैसे होता है

SECC के आंकड़ों के हिसाब से आयुष्मान भारत योजना (ABY) में लोगों को मेडिकल इंश्योरेंस मिल रहा है. SECC के आंकड़ों के हिसाब से ग्रामीण इलाके की आबादी में D1, D2, D3, D4, D5 और D7 कैटेगरी के लोग Ayushman Bharat Yojana (ABY) में शामिल किये गए हैं.

ग्रामीण इलाके के लिए Ayushman Bharat Yojana (ABY) की पात्रता

ग्रामीण इलाके वालों को Ayushman Bharat Yojana (ABY) में शामिल होने के लिए ये योग्यता होनी चाहिए

  • कच्‍ची दीवार और कच्‍ची छत के स‍हारे एक कमरे में रहने वाले परिवार.
  • पर‍िवार में 16 से 59 उम्र के बीच कोई भी व्‍यस्‍क सदस्‍य नहीं होना चाहिए.
  • ऐसा पर‍िवार ज‍िसमें कम से कम एक विकलांग सदस्‍य हो और कोई सक्षम व्‍यस्‍‍क सदस्‍य ना हो.
  • ऐसा परिवार जहां महिलाएं घर को संभालती हों.
  • अनुसूचित जाति/जनजाति पर‍िवार, भूमिहीन व्यक्ति/दिहाड़ी मज़दूर
  • ग्रामीण इलाके के बेघर व्यक्ति, निराश्रित, दान या भीख मांगने वाले
  • आदिवासी जनजाति समूह के पर‍िवार
  • कानूनी रुप से बंधे श्रम‍िक पर‍िवार

…..आदि अपने आप आयुष्मान भारत योजना (ABY) में शामिल होने के पात्र होंगे.

शहरी इलाके के लिए Ayushman Bharat Yojana (ABY) की योग्यता

शहरी इलाके वालों को Ayushman Bharat Yojana (ABY) में शामिल होने के लिए ये योग्यता होनी चाहिए

  • भिखारी, कूड़ा बीनने वाले, रेहड़ी-पटरी दुकानदार, फेरी वाले, मोची.
  • घरेलू कामकाज करने वाले, सड़क पर कामकाज करने वाले अन्य व्यक्ति.
  • प्लंबर, राजमिस्त्री, मजदूर, कंस्ट्रक्शन साईट पर काम करने वाले मजदूर, पेंटर, वेल्डर, सिक्योरिटी गार्ड, कुली और भार ढोने वाले अन्य कामकाजी व्यक्ति सफाई कर्मी.
  • घरेलू काम करने वाले, दुकान पर काम करने वाले लोग, हेंडीक्राफ्ट का काम करने वाले लोग, टेलर.
  • पर‍िवहन कर्मचारी, चालक, कंडक्‍टर, सहायक और चाल‍क, र‍िक्‍शा ओटो चालक, इलेक्‍ट्रीशियन, मैकेनिक, असेंबलर, वॉशर मैन, चौकीदार.

….आदि आयुष्मान भारत योजना (ABY) में शामिल होने के पात्र होंगे.

Ayushman Bharat Yojana (ABY) में क्या-क्या शामिल है

आयुष्मान भारत योजना (ABY) में लगभग हर बीमारी के लिए चिकित्सा और अस्पताल में दाखिल होने का खर्च कवर है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने Ayushman Bharat Yojana (ABY) में 1354 पैकेज शामिल किये हैं. इसमें कोरोनरी बायपास, घुटना बदलना और स्टंट डालने जैसे महेंगे इलाज शामिल हैं. आयुष्मान भारत योजना (ABY) में इलाज का खर्च केंद्र सरकार की स्वास्थ्य योजना (CGHS) से 15-20 फीसदी कम है.

ग्राहक सेवा केंन्द्र (CSP) कैसे खोलें, पूरी जानकारी हिन्दी में

Ayushman Bharat Yojana (ABY) के लाभार्थी का इलाज किस अस्पताल में होगा

सभी सरकारी अस्पताल में Ayushman Bharat Yojana (ABY) के लाभार्थी इलाज करा सकते हैं. इसके साथ ही सरकार के पैनल में शामिल निजी अस्पताल में भी ABY के लाभार्थी इलाज करा सकते हैं. सरकार के पैनल में शामिल होने के लिए निजी अस्पताल में कम से कम 10 बेड होने चाहिए और भविष्य में इसे बढ़ाने की क्षमता भी होनी चाहिए.

Ayushman Bharat Yojana (ABY) के लाभार्थी की योग्यता क्या है

Ayushman Bharat Yojana (ABY) का लाभ लेने के लिए कोई औपचारिक प्रक्रिया नहीं है. एक बार योग्य होने पर आप सीधे इलाज करा सकते हैं. सरकार द्वारा चिन्हित परिवारों के लोग ABY में शामिल हो सकते हैं.

केंद्र सरकार सभी राज्य सरकार और इलाके की अन्य संबंधित एजेंसियों के साथ ABY के लिहाज से योग्य परिवार की जानकारी साझा करेगी. उसके बाद इन परिवारों को एक फैमिली आइडेंटिफिकेशन नंबर मिलेगा. लिस्ट में शामिल लोग ही आयुष्मान भारत योजना (ABY) का लाभ उठा सकते हैं. इसके अलावा जिन लोगों के पास 28 फरवरी 2018 तक राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना का कार्ड होगा, वे भी Ayushman Bharat Yojana (ABY) का लाभ उठा सकते हैं.

Ayushman Bharat Yojana (ABY) में अस्पताल में भर्ती की प्रक्रिया

  • Ayushman Bharat Yojana (ABY) लाभार्थी को अस्पताल में भर्ती होने के लिए कोई चार्ज नहीं चुकाना पड़ेगा.
  • अस्पताल में दाखिल होने से लेकर इलाज तक का सारा खर्च इस योजना में कवर किया जायेगा, और साथ ही योजना के लाभ में अस्पताल में दाखिल होने से पहले और बाद के खर्च भी कवर किये जायेंगे.
  • इसमें ट्रांसपोर्ट पर होने वाला खर्च भी शाम‍िल है.
  • किसी बीमारी की स्‍थिति में सभी मेड‍िकल जांच, ऑपरेशन और इलाज आद‍ि इसके त‍हत कवर होंगे.
  • पैनल में शामिल हर अस्पताल में एक आयुष्मान मित्र होगा. वह मरीज की मदद करेगा और उसे अस्पताल की सुविधाएं दिलाने में मदद करेगा.
  • अस्पताल में एक हेल्प डेस्क भी होगा जो दस्तावेज चेक करने, स्कीम में नामांकन के लिए वेरिफिकेशन में मदद करेगा.
  • आयुष्मान भारत योजना में शामिल व्यक्ति देश के किसी भी सरकारी/पैनल में शामिल निजी अस्पताल में इलाज करा सकेगा.

Ayushman Bharat Yojana (ABY) में किसे मिलेगा कवरेज

आयुष्मान भारत योजना (ABY) में शामिल होने के लिए परिवार के आकार और उम्र का कोई बंधन नहीं है. सरकार की कोशिश यह है कि महिला, बच्चे और सीनियर सिटीजन को ABY में खास तौर पर शामिल किया जाय. सरकारी अस्पताल और पैनल में शामिल अस्पताल में Ayushman Bharat Yojana (ABY) के लाभार्थियों का कैशलेस/पेपरलेस इलाज हो सकेगा.

Ayushman Bharat Yojana (ABY) का लक्ष्य?

माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana (PMJAY) अर्थात Ayushman Bharat Yojana (ABY) की घोषणा पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती, 25 सितंबर से पूरे देशभर में लागू कर दिया था. भारत सरकार ABY के माध्यम से गरीब, उपेक्षित परिवार और शहरी गरीब लोगों के परिवारों को स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराना चाहती है.

सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना (SECC) 2011 के हिसाब से ग्रामीण इलाके के 8.03 करोड़ परिवार और शहरी इलाके के 2.33 करोड़ परिवार आयुष्मान भारत योजना (ABY) के दायरे में आयेंगे. इस तरह PMJAY के दायरे में 50 करोड़ लोग आएंगे.

2008 में यूपीए सरकार द्वारा लांच राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना (NHBY) को भी Ayushman Bharat Yojana (ABY) में मिला दिया गया है. आयुष्मान भारत योजना (ABY) में हर परिवार को सालाना पांच लाख रुपये का मेडिकल इंश्योरेंस मिलेगा.

प्राइमरी मार्केट (Primary Market) क्या होता है? | Share Market

Conclusion Ayushman Bharat Yojna

Ayushman Bharat Yojna देश के गरीब और असहाय लोगों के लिए बहुत ही बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधा है. इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ 74 लाख परिवारों को 5 लाख रुपये स्वास्थ्य बीमा के तौर पर मुहैया कराया जाएगा. यानि इन परिवारों को अस्पताल में इलाज कराने का खर्च नहीं देना होगा. ये परिवार पांच लाख रुपए तक का इलाज मुफ्त में करा सकेंगे. हर परिवार में औसतन 5 सदस्यों के हिसाब से, इस योजना से देश के 50 करोड़ से अधिक लोग लाभान्वित हो सकेंगे.

उम्मीद है यह जानकारी आपके काम की है. MudraXP पर हम इसी तरह की जानकारी शेयर करते रहते हैं. हमारा लक्ष्य लोगों तक फायनांस कि जानकारी पहुंचाना है. फायनेंस के बारें में किसी स्कूल या कॉलेज में जानकारी नहीं दिया जाता है. इसीलिए हमने यह लक्ष्य लिया है इस जानकारी को आपने दोस्तों के साथ शेयर कर उन्हें भी फायनेंस कि जानकारी से अवगत करायें.

यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो Spread the love Please Share...

Leave a Reply

Your email address will not be published.