What is Marksheet Loan Full Guide in Hindi

Marksheet Loan Kya hai, 10th या 12th करते ही बच्चों के अंदर व्यवसाय शुरू करने की इच्छा शुरू हो जाता है. व्यवसाय शुरू करने के लिए कुछ पूंजी की जरूरत होती है और इसे पूरा करने के लिएमार्कशीट लोन ही ध्यान में आता है.

मार्कशीट लेना बहुत आसान तो नहीं लेकिन, थोड़ी मसक्कत के बाद मिल जाता है. मार्कशीट लोन बहुत ही प्रचलित लोन में से एक है. वैसे आज कई NBFC Companies है जो लोन देने का काम कर रही है.

बैंक से लोन लेना अब उतना आसान नहीं रहा इसीलिए कई Microfinance Company भी है जो लोन देती है. लोन लेने के लिए आपके पास कई दस्तावेजों का होना जरूरी है. जिसका विवरण नीचे दिया गया है.

10th Pass Marksheet Loan जब भी हम किसी तरह का व्यापार करने कि सोचते हैं तो सबसे पहला काम आईडिया इसके बाद पैसे का इंतजाम करना होता है.

What is Marksheet Loan in Hindi

पैसे के लिए हम दोस्त या रिश्तेदार कि तरफ देखते हैं लेकिन, कई बार यहां से मदद नहीं मिल पाता है. बिज़नस को शुरू करने में पहले से चल रहे बिज़नस को आगे बढ़ाने के लिए कई बार मोटे रकम की जरूरत होती है.

अब कोई दोस्त या रिश्तेदार ब्याज पर पैसा तो देगा नहीं. यदि उसे भी ब्याज दिया जाये तो शायद वो पैसा दे देंगें. लेकिन, ऐसा हो नहीं पाता है. ऐसे में लोन ही सबसे आसान और सुगम तरीका है.

किसी बिज़नस को शुरू करने के लिए कई तरह का काम करना होता है जिसमें काफी पैसा लगाना होता है. विसे भी बिज़नस शुरू करना काफी मुश्किल से भरा काम है.

बिज़नस के शुरूआती दिनों में बहुत मेहनत करना होता है. धीरे धीरे जब बिज़नस आपने ट्रैक पर आ जाता है तो यह एक छायादार और फलदार वृक्ष कि तरह हो जरा है.

ऐसे में बिजनेस शुरू करने के लिए 10th Pass Marksheet Loan एक बेहतर विकल्प है. जो थोड़ी मसक्कत करने पर मिल भी जाता है.

marksheet loan kya hai
10th 12th Marksheet Loan

Marksheet Loan Kya Hai

Marksheet Loan, इसके नाम से ही पाता चलता है. इसमें 10th या 12th के मार्कशीट के आधार पर लोन मिल जाता है. Marksheet Loan के लिए सरकार की कई योजनाएं भी है. जो लघु उद्योग के लिए 10th Marksheet LOAN देने का काम करती है.

कभी भी किसी अखबार या विज्ञापन पर भरोसा करके यह लोन बिलकुल भी नहीं लेना चाहिए. यह लोन या तो बैंक से या किसी Finance Company से मिल सकता है.

यदि किसी दोस्त या रिश्तेदार से पैसा उधर लेने की बात करते हैं तो कई बार उसे फोन करना होता भरोसा दिलाना होता है दिये गए समय में उधर वापिस कर देंगें तब जाकर कोई उधर देता है.

इसी तरह बैंक से लोन लेने के लिए भी उधर कैसे चुकता करोगे यह सुनिश्चित करना होता है. किसी भी बैंक से लोन प्राप्त करने के लिए बहुत से प्रोसेस से गुजरना पड़ता है.

Marsheet Loan

बैंक से मिलने वाला लोन अक्सर गिरवी पर मिलता है. इसके लिए कुछ गिरवी रखना होता है. यहां लोन लेने के लिए 10th Marksheet गिरवी रख कर Marksheet Loan देती है.

यहां मिलने वाला लोग लोन लेने वाले व्यक्ति के योग्यता पर मिलता है. आगे अपनी योग्यता का इस्तेमाल कर वह कोई व्यवसाय करेगा और लोन देने बैंक या कंपनी का लोन चुकता करेगा.

मार्कशीट लोन लेना थोड़ा मुश्किल काम है क्युकी सभी बैंक मार्कशीट लोन मुहैया नहीं करवाती है. आगे की पढाई के लिए कॉलेज के द्वारा जारी किये गए चिट्ठी पर Education Loan आसानी से मिल जाता है.

यदि दसवीं के मार्कशीट पर Education Loan लिया जाये तो यह बहुत आसान है. क्युकी यहां आगे कि पढाई के लिए लोन दिया जाता है. मार्कशीट लोन से व्यवसाय शुरू करने के लिए बहुत कम बैंक लोन देती है.

First Indian Insurance Company LIC of India भारतीय जीवन बीमा निगम

Marksheet Loan Document

अब बात आती है बैंक या किसी एनबीएफ़सी कंपनी से लोन लिया जाये तो किस तरह के डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होता है. इससे पहले यह जान लेन यहाँ से दो तरह का लोन मिलता है.

पहला जिसमें आगे कि पढाई के लिए लोन मिलता है. जिसमें एडमिशन लेटर स्कोलरशिप का साबुत और पासपोर्ट साइज़ का फोटो देना होता है.

दूसरा कोई व्यसाय शुरू करने के लिए मिलने वाला लोन इसमें, मार्कशीट, पासपोर्ट साइज़ फोटो के साथ प्रोजेक्ट रिपोर्ट देना होता है. लोन लेने वाला व्यक्ति किस तरह का व्यवसाय करना चाहता है.

मार्कशीट लोन लेने के लिए मार्कशीट के अलावा पहचान के लिए कुछ दस्तावेज देना होता है. जैसे पहचान पत्र, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, आवास प्रमाण पत्र.

कुछ बैंक सिर्फ आधार कार्ड और पैन कार्ड के आधार पर ही लोन दे देती है. क्योंकि पैन कार्ड से पहचान पत्र और आधार कार्ड से आवास प्रमाण पत्र साबित हो जाता है.

इसके अलावा आवास प्रमाण पत्र के लिए राशन कार्ड, बिजली बिल, टेलीफोन बिल, टैक्स बिल आदि भी दे सकते हैं. इसके अलावे बैंक या एनबीएफसी कंपनी हाल के 3 महीने का बैंक स्टेटमेंट भी मांगती है.

बैंक या एनबीएफ़सी कंपनी सुनिश्चित करना चाहती है लोन लेने वाला व्यक्ति किस तरह से मुनाफा कमाएगा और लिया हुआ कर्ज ब्याज सहित वापिस करेगा.

खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए पर्याप्त धनराशि नहीं होने कि स्थिति में बैंक या प्राइवेट फाइनेंस कम्पनियां से लोन प्राप्त करके भी अपने बिजनेस को सुचारु रुप से चलाया सकता है.

मार्कशीट लोन के लिए डॉक्यूमेंट

कई बैंक और प्राइवेट संस्थान ऐसे भी हैं जो आवेदनकर्ता की योग्यता को देखते हुए 10th Pass Marksheet Loan देने का काम कर रही है.

  • Properly filled Loan Application Form
  • Letter of admission / Business Proposal / Project Report
  • Copy of 10th/12th mark sheet or latest education certificate
  • Statement of cost of study / Statement of working Capital / Statement of Profit Margin
  • 2 passport size photographs
  • Pan Card and Aadhaar Card of the student and Parent/ Guardian

इसके अलावा दो बैंक डायरेक्टर की जरूरत होता है जिसका खाता उसी बैंक में होना चाहिए.

10वीं मार्कशीट लोन कैसे लें

10th Pass Marksheet Loan लेने के लिए सबसे पहले ऐसे बैंक या प्राइवेट कंपनी का तलाश करना होता है जो इस तरह का लोन देने का काम करती है.

बैंक का तलाश खत्म होते ही बैंक को अपना प्रोजेक्ट रिपोर्ट देना होता है. जिसमें यह दर्शाया गया होता है की लोन लेने वाला व्यक्ति किस तरह से और किस तरीके का व्यापार करेगा.

यदि बैंक को आपके व्यापार में रुचि है मतलब बैंक को यह लगना चाहिए कि जो लोन बैंक दे रही है उसे वह ब्याज सहित वापस मिल जाएगा, तो बैंक आपके उस प्रोजेक्ट रिपोर्ट पर विचार करती है.

लोन अमाउंट कंफर्म होने के बाद बैंक में एक लोन खाता खोला जाता है. लोन में मिलने वाला अमाउंट इसी लोन खाते में जमा किया जाता है. जिसका इस्तेमाल लोन लेने वाला व्यक्ति अपने व्यापार को शुरू करने या व्यापार को बढ़ाने के लिए कर सकता है.

वैसे तो लोग लोन के लिए बैंक की तरफ ज्यादा रुक करते हैं लेकिन बैंक के अपेक्षा किसी प्राइवेट एनएफसी कंपनी से लोन मिलना ज्यादा आसान होता है.

किसी भी संस्थान से लोन लेने से पहले या आप बैंक से लोन ले रहे हो या किसी एनबीएफसी कंपनी से ब्याज दर पहले जान लेना चाहिए.

मार्कशीट लोन देने वाले बैंक और फाइनेंस कंपनी

  • भारतीय स्टेट बैंक मार्कशीट लोन
  • पीएनबी मार्कशीट लोन
  • आईसीआईसीआई बैंक मार्कशीट लोन
  • रिलायंस मार्कशीट लोन
  • बजाज फाइनेंस मार्कशीट लोन
  • महिंद्रा फाइनेंस मार्कशीट लोन
  • मुथूट फाइनेंस मार्कशीट लोन
  • एचडीएफसी बैंक मार्कशीट लोन
  • आदित्य फाइनेंस ग्रुप मार्कशीट लोन
  • केनरा बैंक मार्कशीट लोन
  • यूनियन बैंक मार्कशीट लोन
  • देना बैंक मार्कशीट लोन
  • बंधन बैंक मार्कशीट लोन
  • यूनाइटेड बैंक मार्कशीट लोन
  • इलाहाबाद मार्कशीट बैंक लोन
  • यूको बैंक मार्कशीट लोन
  • बैंक ऑफ बड़ौदा मार्कशीट लोन

Marksheet Loan kaise milega

इसके अलावा भी एनबीएफसी कंपनी है जो मार्कशीट लोन देने का काम करती है. समाचार पत्र में वर्गीकृत सेक्शन के अंदर कई तरह का लोन का विज्ञापन दिया गया होता है.

इस तरह के लोन के विज्ञापन के झांसे में बिल्कुल नहीं आना चाहिए. यहां मिलने वाला अधिकतर लोन फर्जी होता है. जिसमें प्रोसेसिंग सी के नाम पर लोन लेने वाले व्यक्ति से मोटा रखा वसूला जाता है.

यदि यहां से लोन मिल भी गया तो ब्याज दर बहुत ज्यादा होता है. यदि 10th पास मार्कशीट लोन लेना चाहते हैं तो ऊपर दिए गए बैंक का ही सहारा लें.

इसके अलावा भी यदि आपकी नजर में कोई बैंक है तो पहले वहां सभी जानकारी को सुनिश्चित कर लें उसके बाद ही लोन लेना चाहिए.

Hdfc Mutual Fund Customer Care 180030106767

Marksheet Loan Interest Rate

व्यवसाय को शुरू करने या व्यवसाय को चलाने के लिए मिलने वाला मार्कशीट लोन का ब्याज दर 8 से 10 प्रतिशत तक होता है. यदि यह लोन बैंक से लिया जाए तो ब्याज दर कम जबकि किसी प्राइवेट एनएफसी से लेने पर ब्याज दर ज्यादा होता है.

सभी बैंक का ब्याज दर अलग-अलग होता है. इसीलिए जिस किसी भी बैंक से मार्कशीट लोन या किसी भी अन्य तरह का लोन लेना चाहते हैं पहले ब्याज दर कंफर्म कर लेना चाहिए.

State Bank of India6.85% p.a. to 8.65% p.a.
ICICI Bank12.00% p.a. and above
HDFC Bank9.55% p.a. – 13.25% p.a.
Canara Bank8.75% p.a. to 9.25% p.a.
Union Bank of India6.80% p.a. to 10.05% p.a.
UCO Bank7.30% p.a. to 9.70% p.a.
Bank of Baroda7.60% p.a. to 9.70% p.a.
Punjab National Bank6.90% p.a. to 9.55% p.a.
Axis Bank13.70% p.a. – 15.20% p.a.
Marksheet Loan Interest Rate

10वीं मार्कशीट पर कितना लोन मिल सकता है

लेने से पहले एक सवाल हम सभी के मन में आता है कि कितना लोन मिल सकता है? 10th या 12th मार्कशीट पर मिलने वाला लोन कई बातों पर निर्भर करता है.

यह लोन किस काम के लिए दिया जा रहा है. यदि यह लोग आगे की पढ़ाई के लिए लिया जा रहा है तो देश के अंदर पढ़ने के लिए 1000000 और देश से बाहर पढ़ने के लिए ₹2000000 तक का लोन मिल जाता है.

व्यवसाय शुरू करने के लिए या व्यवसाय को चलाने के लिए लोन की जरूरत है तो ऐसे में प्रोजेक्ट रिपोर्ट या बिजनेस प्रपोजल जमा करना होता है जिसमें यह दर्शाया हो कि इस व्यापार में और कितना लगेगा या व्यापार शुरू करने में कितना लगेगा.

व्यवसाय के लिए लोन अमाउंट पूरा तरह से प्रोजेक्ट रिपोर्ट पर निर्भर करता है. इसीलिए किसी अच्छे अकाउंटेंट या सीए से प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनवाना चाहिए.

मार्कशीट पर व्यवसायिक लोन ज्यादातर एनबीएफसी कंपनी और माइक्रो फाइनेंस कंपनी बहुत आसानी से दे देती है. एनबीएफसी कंपनी और माइक्रो फाइनेंस कंपनी का मकसद ही रोजगार को बढ़ावा देना है.

माइक्रो फाइनेंस कंपनी के साथ एक परेशानी यह है कि यहां महिलाओं के समूह को लोन दिया जाता है. यहां से बिना मार्कशीट के भी लोन ले सकते हैं.

व्यवसाय शुरू करने या व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए मार्कशीट लोन की जगह माइक्रो फाइनेंस कंपनी से लोन लेना ज्यादा सुगम है.

Courses covered under marksheet Loan

यदि मार्कशीट लोन आगे की पढ़ाई के लिए लिया जा रहा है, तो देश में पढ़ाई करने के लिए 1000000 और देश से बाहर पढ़ाई करने के लिए ₹2000000 तक का लोन मिल जाता है.

इसके अंदर कई कोर्स के लिए लोन दिया जाता है. लोन लेने के लिए एडमिशन लेटर और स्कॉलरशिप का लेटर देना होता है. कई तरह का कोर्स दिया गया है जिसके लिए कोई भी व्यक्ति 10th या 12th मार्कशीट लोन ले सकता है.

  • ग्रेजुएशन
  • पोस्ट ग्रेजुएशन
  • डिप्लोमा कोर्सेज
  • इंजीनियरिंग
  • मेडिकल
  • कंप्यूटर साइंस
  • एग्रीकल्चर
  • टेक्निकल वोकेशनल ट्रेनिंग
  • एयर होस्टेस
  • मर्चेंट नेवी

इसके अलावा भी कई तरह के कोर्स हैं जिसके लिए यह लोन लिया जा सकता है.

Expenses covered by marksheet loan

मार्कशीट लोन में मिलने वाला लोन पढ़ाई के लिए पूरा खर्च वहन करती है. जिसका विवरण नीचे दिया गया है.

  • 100% of the payable college tuition fees
  • Accommodation charges, if any
  • Books and equipment
  • Library fees
  • Examination fees
  • Travelling expenses for studying in abroad, if any
  • Cost of two-wheeler
  • Other miscellaneous expenses necessary to ensure completion of course

भारतीय स्टेट बैंक 10वीं मार्कशीट लोन

देश की अग्रणी बैंक भारतीय स्टेट बैंक जिसे हम एसबीआई के नाम से जानते हैं. यह मेघावी छात्रों को स्किल लोन देने का काम करती है. जिसका लोन अमाउंट ₹150000 तक होता है.

इस लोन का मुख्य मकसद छात्रों के स्किल का विकास करना है. स्किल विकास का मतलब किसी टेक्निकल कोर्स से होता है. छात्र टेक्निकल ज्ञान लेकर अपना कोई व्यवसाय कर सकें.

स्किन लोन के अंतर्गत मिलने वाले लोन को चुकाने के लिए बैंक 7 साल का समय देती है. इस लोन को लेने के लिए किसी भी तरह का प्रोसेसिंग फी नहीं देना होता है.

सामान्यता ऐसा देखा गया है कि हर तरह के लोन को प्रोसेस करने के लिए लोन प्रोसेसिंग फी देना होता है जबकि इसके लोन में इसका कोई प्रावधान नहीं है.

स्किल लोन के लिए भी कुछ नियम और शर यहां ₹50000 से ₹150000 तक का लोन मिल जाता है. यदि लोन का रकम ₹50000 है तो इसे लौटाने के लिए बैंक 1 साल का समय देती है.

लोन रकम 100000 होने पर लौट आने का समय 5 साल निर्धारित किया गया है जबकि लोन रकम ₹150000 होने पर चुकाने का समय 7 साल का होता है.

वक्रांगी का ग्राहक सेवा केन्द्र कैसे खोलें?

10th Marksheet Loan Eligibility

किसी भी तरह के लोन को देने के लिए बैंक ने एक एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया रखा है. ऐसे में 10th मार्कशीट लोन लेने के लिए क्या पात्रता होना चाहिए यह जानना भी बहुत जरूरी है.

दसवीं के बाद या 12वीं के बाद इसके मार्कशीट पर लोन लेने के लिए 10वीं या 12वीं का उत्तर अंकपत्र का होना अनिवार्य है. इसके अंतर्गत आगे की पढ़ाई के लिए या अपना रोजगार शुरू करने के लिए लोन की मांग कर सकते हैं.

लोन लेने के लिए ओरिजिनल मार्कशीट देना होता है जिसकी जांच बैंक अपने स्तर पर करवाती है. यदि लोन तुरंत चाहिए तो इसके लिए कोई गिरवी रखना होता है जैसे प्रॉपर्टी या सोना चांदी का बना आभूषण.

सबसे बड़ी क्राइटेरिया यह है कि लोन लेने वाला व्यक्ति लोन किस तरह से चुकता करेगा. यदि बैंक या प्राइवेट फाइनेंस कंपनी को यह विश्वास हो जाता है कि लोन लेने वाला व्यक्ति लोन का रकम ब्याज सहित दिए गए समय में चुकता कर देगा तो लोन तुरंत मिल जाता है.

आगे की पढ़ाई के लिए लोन इसलिए मिल जाता है कि देने वाले संस्थान को एक विश्वास होता है पढ़ाई के बाद नौकरी कर कर्ज लेने वाला व्यक्ति अपना कर्ज ब्याज सहित चुका देगा.

Marksheet Loan for Business

इसी तरह यदि लघु उद्योग के लिए लोन लेना है तो ऐसे में प्रोजेक्ट रिपोर्ट में साफ-साफ यह दर्शना होगा कि आप किस तरह से मुनाफा कमाएंगे.

यह मुनाफा का तरीका कितना सही और कितना गलत है इसकी जांच बैंक अपने स्तर पर करती है. यदि बैंक को ऐसा लगता है कि जो इस प्रोजेक्ट रिपोर्ट में या जो इस बिजनेस प्रपोजल में लिखा गया है, ऐसा करके लाफ कमाया जा सकता है तो लोन आसानी से मिल जाएगा.

इसके अलावा बिजनेस लोन के लिए प्रधानमंत्री के द्वारा मुद्रा लोन योजना की शुरुआत की गई है इसके तहत भी बड़ी आसानी से लोन ले सकते हैं.

व्यवसाय करने के लिए मार्कशीट लोन से ज्यादा बेहतर विकल्प प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना है. इसमें प्रोजेक्ट रिपोर्ट जिला के उद्योग विभाग में सबमिट करना होता है और उद्योग विभाग का जीएम ऋण के लिए बैंक को अस्वस्थ करते हैं.

10th Marksheet Loan Apply Process

मार्कशीट लोन. आगे की पढ़ाई को पूरी करने या किसी लघु उद्योग को शुरू करने के लिए दिया जाता है. मार्कशीट लोन लेने के लिए ऊपर दिए गए बैंक और फाइनेंस कंपनियों के अलावा अन्य बैंक से भी बात कर सकते हैं.

मार्कशीट लोन अप्लाई करने के लिए सबसे पहले अपने नजदीकी बैंक और फाइनेंस कंपनी से संपर्क करना होता है. यहां संपर्क कर यह पता करना होता है कि यह बैंक या फाइनेंस कंपनी मार्कशीट लोन देती है या नहीं.

यदि मार्कशीट लोन देती है तो प्रोसेसिंग फी क्या है, लोन कितने समय के लिए देती है, लोन का रकम कितना होता है, और बदले में देने वाले लोन रकम पर कितना ब्याज वसूलती है.

आमतौर पर बैंक का ब्याज दर फाइनेंस कंपनी के ब्याज दर से कम होता है. लेकिन बैंक की तुलना में फाइनेंस कंपनी से लोन जल्दी मिल जाता है.

सभी जरूरी कागजात के साथ संस्थान को अपना फाइल देना होता है. संस्थान इस फाइल के आधार पर लोन अप्रूव करती है और लोन अकाउंट में लोन अमाउंट जमा करा देती है.

Important Points Related to Marksheet Loan

लोन लेने के लिए यदि बैंक या किसी प्राइवेट एनबीएफसी कंपनी जहां से भी लोन लेने की सोच रहे हैं वहां बताए हुए प्रोसेसिंग तरीके को सही से पालन किया जाए तो लोन आसानी से मिल जाता है.

सरकारी बैंक की तुलना में प्राइवेट बैंक और प्राइवेट बैंक की तुलना में एनबीएफसी कंपनी या माइक्रो फाइनेंस कंपनी जल्दी लोन मुहैया करवा देती है.

प्राइवेट बैंक या एनबीएफसी कंपनी का ब्याज दर बैंक की तुलना में कुछ ज्यादा होता है. इसीलिए लोन लेने से पहले आपको यह सुनिश्चित करना है कि हमें लोन कहां से लेना है. यदि जल्दी है तभी प्राइवेट बैंक यह एनबीएफसी या माइक्रो फाइनेंस कंपनी की तरफ जाना चाहिए.

किसी भी जगह से किसी भी तरीके का लोन लेने से पहले सभी नियम सर कानूनी प्रक्रिया ब्याज दर लोन में मिलने वाले रकम सभी की जानकारी ले लेनी चाहिए.

लोन लेने से पहले बैंक और प्राइवेट कंपनी के ब्याज दर और साथ में लगने वाला अतिरिक्त खर्च का तुलना जरूर करना चाहिए. ब्याज दर और अतिरिक्त खर्च जितना कम होगा उतना ही फायदेमंद होगा.

मार्कशीट लोन का रिकवरी रेट कम होने की वजह से बैंक इस तरह का लोन देना पसंद नहीं करती है.

History Of Insurance In The World In Hindi – बीमा का इतिहास

10th 12th पास मार्कशीट लोन लेने से सावधान

जीवन के हर आयाम में सुगमता के साथ-साथ कुछ परेशानियों का भी सामना करना होता है. हर तरफ फ्रॉड और जालसाज लोग इस ताक में बैठे रहते हैं कि कब कोई मुर्गा मिले.

लोन के लिए कई सरकारी योजनाएं. कई बैंक की भी अपनी योजना है. इसीलिए लोन लेने से पहले संस्थान का जांच अपने स्तर पर जरूर कर ले.

जिस तरह बैंक की एनबीएफसी कंपनी लोन देने से पहले आपका फाइल जांच करती है की लोन लेने वाला व्यक्ति सही है या नहीं. उसी तरह यह आपका भी कर्तव्य है कि लोन लेने से पहले संस्थान को सही से जान लें और समझ लें.

बहुत कम ऐसी बैंक और एनबीएफसी कंपनी है जो 1oth 12th Marksheet Loan देती है. लेकिन समाचार पत्र में अक्सर लोन का विज्ञापन भरा होता है.

यहां ज्यादातर विज्ञापन देने वालो का एकमात्र उद्देश्य ठगी करना है. ऐसे ठग और ठग कंपनियों से सावधान रहें किसी प्रकार का रजिस्ट्रेशन कमीशन या फाइल चार्ज के नाम पर कोई धनराशि उन्हें नहीं दें.

यह जानकारी आप MudraXP पर पढ़ रहे हैं. यह देश की तेजी से आगे बढ़ने वाली फाइनेंसियल ब्लॉग है. जो फाइनेंस से संबंधित सभी जानकारी हिंदी में उपलब्ध करवाती है.

FAQ?

मार्कशीट लोन क्या है?

बेरोजगार युवाओं को 10वीं या 12वीं के अंक पत्र के आधार पर दिया जाने वाला लोन मार्कशीट लोन है.

मार्कशीट लोन कौन ले सकता है?

कोई भी भारतीय नागरिक जिसके 10वीं या 12वीं का मार्किकशीट है.

मार्कशीट लोन कौन कौन देता है?

लोन देने वाली सभी कंपनियां और कई बैंक मार्कशीट लोन देती है.

मुझे मार्कशीट पर लोन लेना है क्या करना होगा?

इसके लिए अपने नजदीकी बैंक या फाइनेंस कंपनी में संपर्क कीजिये.

मार्कशीट लोन किस आधार पर दिया जाता है?

10वीं या 12वीं मार्कशीट के आधार पर लोन दिया जाता है.

मेरा बैंक क्रेडिट स्कोर अच्छा नहीं है क्या मुझे लोन मिल सकता है?

यदि क्रेडिट स्कोर अच्छा नहीं है तो किसी भी तरह का कोई भी लोन नहीं मिल सकता है.

क्या बिना किसी जानकारी के 10th की मार्कशीट पर लोन मिल जाता है?

10वीं मार्कशीट पर लोन लेने के लिए योग्यता का होना बहुत जरूरी है जैसे कोई टेक्निकल ज्ञान.

लोन प्रक्रिया में आवेदन करने के बाद कितने दिन में लोन प्राप्त होता है?

इस प्रक्रिया को पूरा होने में 1 महीने के आसपास का समय लग जाता है.

क्या यह लोन सुविधा भारत के सभी राज्यों में उपलब्ध है?

जी हां भारत के सभी राज्यों में मार्कशीट लोन की सुविधा उपलब्ध है.

You May Also Read

What is Ayushman Bharat Yojana in Hindi (ABY)?

शेयर मार्केट (Share Market) क्या है? Financial Guide in Hindi

Banking Terminology in Hindi बैंकिंग में इस्तेमाल होने वाला कुछ महत्वपूर्ण शब्द

What is CIBIL SCORE in Hindi सिबिल स्कोर क्या है?

Conclusion

Marksheet Loan Kya Hai, इसके बारें में बहुत ही विस्तृत जानकारी यहां दिया गया है. मार्कशीट लोन आगे कि पढाई को पूरा करने के लिए या किसी लघु उद्योग शुरू करने के लिए लिया जाता है.

बहुत कम ऐसी बैंक और एनबीएफसी कंपनी है जो मार्कशीट लोन देती है. यदि आगे की पढ़ाई के लिए लोन ले रहे हैं तो मार्कशीट लोन आसानी से मिल जाता है.

यदि व्यवसाय शुरू करने के लिए या व्यवसाय को चलाने के लिए लोन चाहिए तो प्रधानमंत्री मुद्रा लोन ज्यादा बेहतर विकल्प है. प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के लिए संबंधित दस्तावेजों के साथ बैंक के अधिकारियों से मिलिए.

बैंक के द्वारा दिया जाने वाले लोन का ब्याज दर एनबीएफसी या प्राइवेट फाइनेंस कंपनी के ब्याज दर से बहुत कम होता है. इसके अलावा यदि व्यवसायिक लो नहीं चाहिए तो माइक्रो फाइनेंस कंपनी भी बेहतर विकल्प हो सकता है.

माइक्रो फाइनेंस कंपनी ज्यादातर महिलाओं के समूह को लोन देती है. इनका भी ब्याज दर बैंक की तुलना में बहुत ज्यादा होता है.

What is Marksheet Loan Full Guide in Hindi इसमें मार्कशीट लोन से संबंधित लगभग सभी जानकारी निहित है. अन्य किसी भी जानकारी के लिए नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं.

यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो Spread the love Please Share...

Leave a Reply

Your email address will not be published.