List of Top 10 Best NBFC Companies in India

Top 10 NBFC Companies in India एनबीएफसी क्या होता है? यह किस तरह से काम करती है. इन सब के बारें में पिछले पोस्ट में बात कर चुके हैं.

फाइनेंस की जरूरत को पूरा करने के लिए 10 बेहतरीन एनबीएफसी कंपनी का लिस्ट नीचे दिया गया है.

1960 के दशक में कई लोगों का जमा पूंजी एनबीएफसी कंपनी में डूब गया. जिसे देखते हुए 1963 में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा कुछ नया नियम बनाकर इन कंपनियों का रजिस्ट्रेशन का तरीका बदल दिया गया.

एनबीएफसी कंपनी का पंजीकरण कंपनी एक्ट 1956 के तहत होता है. एनबीएफसी कंपनी का नियमन मतलब रेगुलेशन रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ही करती है. इसीलिए एनबीएफसी के साथ काम करने में कोई ज्यादा रिस्क नहीं है.

बैंक की तरह ही काम करने वाली इन गैर बैंकिंग कंपनियों को दुनिया भर में शैडो बैंकिंग सिस्टम (Shadow Banking System) के नाम से जाना जाता है.

top 10 nbfc companies in india
Top 10 NBFC Companies in India

Types of NBFC Companies in India

एनबीएफसी कंपनी के रजिस्ट्रेशन के लिए आरबीआई के पास दो करोड़ रुपए एन ओ एफ के रूप में जमा करना होता है. जहां एन ओ एफ़ का मतलब नेट ओंड फंड (NOF – Net Owned Fund) होता है.

इस दो करोड़ रुपए के अलावे हर साल लाभ का कम से कम 20% हिस्सा भी रिजर्व फंड बनाकर रखना होता है. देश में कई तरह की गैर बैंकिंग कंपनी (NBFC Companies) काम कर रही है.

क्या आप जानते हैं, भारत देश के अंदर आठ तरह की गैर बैंकिंग कंपनी काम कर रही है. इसमें कुछ के साथ हमें अक्सर काम करना होता है. जैसे जो NBFC लोन के लिए हमें उसके बारें में ज्यादा जानकारी होता है.

Hdfc Mutual Fund Customer Care 180030106767

  • Loan Company (LC)
  • Gold Loan NBFCs in India
  • Asset Finance Company (AFC)
  • Infrastructure Debt Fund: Non- Banking Financial Company (IDF-NBFC) 
  • Residuary Non-Banking Companies (RNBCs)
  • Infrastructure Finance Company (IFC)
  • NBFC-Factors
  • Investment Company (IC)

Top 10 NBFC Companies in India

बैंक में जो भी काम होता है वही काम NBFC Company भी कर रही है. लेकिन, बैंक की तुलना में यहां काम करवाना थोड़ा आसान है. यह सबसे बड़ा वजह है की लोग एनबीएफसी की तरफ भाग रहे हैं.

आज के फाइनेंस इंडस्ट्री में NBFC एक महत्वपूर्ण योगदान दे रही है. यह अपनी सेवाएं शहरी (Urban) और ग्रामीण (Rural) दोनों इलाके में दे रही है. 

Top 10 NBFC Companies List दो बातों को ध्यान में रख कर बनाया गया है. पहला कंपनी का Annual Turnover और दूसरा कंपनी का Social Engagement & Reach.

वक्रांगी का ग्राहक सेवा केन्द्र कैसे खोलें?

LIC Housing Finance

एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (Lic Housing Finance Limited) भारत में सबसे बड़ी आवास वित्त कंपनियों में से एक है. LIC Housing Finance, LIC of India का ही एक एक अंग है.

LIC HFL, home loan देने का काम करती है. अब तक करीब 20 लाख से ज्यादा लोगों को उनके सपनों का घर खरीदने में मदद किया है. एलआईसी होम लोन ब्याज दरें 8.85% से शुरू होता है.

Power Finance Corporation

पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड की शुरुआत 16 जुलाई, 1986 हुआ. आज यह एक अनुसूची-ए नवरत्न सीपीएसई और देश का अग्रणी गैर-बैंकिंग वित्तीय निगम है.

पीएफसी का पंजीकृत कार्यालय नई दिल्ली में स्थित है और क्षेत्रीय कार्यालय मुंबई एवं चेन्नै में स्थित है. पीएफसी भारत को वैश्विक प्लेयर की ऊंचाइयों तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.

देश के उत्तरोत्तर विकास को उसकी ऊर्जा खपत द्वारा मांपा जाता है. दुर्भाग्यवश, अभी भी हमारे राष्ट्र के बड़े भाग में बिजली की पहुंच नहीं है. पीएफसी आने वाले वर्षों में उसको पूर्ण करने में उत्तरोत्तर महत्वपूर्ण कारक बनेगा.

HDB Finance Services

इसका सञ्चालन देश का अग्रणी बैंक HDFC करती है. यह कई तरह के Secured और non secured loan देती है. यह कंपनी 1000 ब्रांच के साथ 22 राज्य और 3 केंद्र शाशित प्रदेश में अपनी सुविधाएं प्रदान कर रही है.

एचडीबी फाइनेंसियल सर्विसेस द्वारा पेश किए गए व्यक्तिगत ऋण को किसी भी व्यक्तिगत वित्तीय आवश्यकताओं के लिए उपयोग किया जा सकता है.

शादी, विदेश यात्रा, स्वास्थ्य और आपात स्थिति से निपटने के लिए पर्सनल लोन का इस्तेमाल कर सकते हैं. पर्सनल लोन से क्रेडिट कार्ड का बिल भी चुका सकते हो.

What is Micro Finance full guide in Hindi माइक्रो फाइनेंस क्या होता है?

PNB Housing Finance

देश में सबसे ज्यादा लिया जाने वाला लोन घर खरीदने के लिए होता है. जिसका अमाउंट बहुत बड़ा होता है और इसे चुकाने के लिए बहुत ज्यादा समय दिया जाता है.

PNB Housing Finance देश की अग्रणी बैंक PNB (Punjab National Bank) चला रही है. PNB Housing Finance का ब्याज दर 7.2 प्रतिशत से शुरू हो जाता है.

इसमें मिलने वाले लोन कि अवधि 30 साल तक का होता है. साथ ही Processing Fee के नाम पर 1% और GST लिया जाता है. यहां दिया गया डाटा में बदलाव हो सकता है. इसीलिए वर्तमान स्थिति के लिए बैंक ब्रांच में संपर्क करें.

Shriram Finance Company

श्रीराम फाइनेंस एक ट्रांसपोर्ट फाइनेंस कंपनी है जो कमर्शियल और बिज़नेस व्हीकल्स के लिए लोन देती है. इस कंपनी की शुरुआत 1979 में हुई है.

कंपनी अपने शुरुआती समय में Light Duty Trucks, Heavy Duty Trucks, Mini Trucks, Passenger Vehicles, Construction Vehicles और Farm Equipments के लिए लोन देना शुरू की थी.

आज के समय में यह कंपनी General Insurance, Mutual Fund, और, Stock Broking का भी काम कर रही है.

Muthoot Finance

Muthoot Finance, देश की पहली NBFC Company है जिसकी शुरुआत वर्ष 1888 में केरला के एक छोटे से गांव से हुई है.

यह गोल्ड लोन कंपनी है यह गोल्ड के अगेंस्ट में ही लोन देती है. इंडिया में यह गोल्ड लोन की अग्रणी कंपनी में से एक है.

इसके साथ ही यह foreign exchange services, money transfers, wealth management services, travel and tourism services भी देती है.

Muthoot Housing Finance Company की यह Parent Company है.

History Of Insurance In The World In Hindi – बीमा का इतिहास

Tata Capital Financial Services

यह TATA SONS की सब्सिडरी कंपनी है. देश में टाटा को किसी परिचय (introduction) की जरूरत नहीं है.

आज टाटा के पास इतने प्रोजेक्ट हैं और इसके ग्राहकों को भी लोन की जरूरत है. ऐसे में TATA Capital Financial Service का सबसे बड़ा बाजार पैरेंट कंपनी ही है.

जैसे टाटा मोटर्स हर तरह की गाड़ी बनती है और टाटा कैपिटल फाइनेंस से टाटा की गाड़ी फाइनेंस करवाना बहुत आसान है.

Bajaj Finance Limited

बाजाज फाइनेंस की शुरुआत वर्ष 2007 में हुई है. यह Bajaj Holdings and Investment का एक अंग है.

यह कई तरह का लोन देती है जिसमें से दो लोन मुझे बहुत अच्छा लगता है. यह डॉक्टर्स को आगे की पढाई (Career Enhacement) के लोन देती है.

इसके साथ ही home loan, gold loan, personal loan, business loan भी देती है.

Kotak Mahindra Investments

कोटक महिंद्रा की शुरुआत 1992 में हुई थी. यह कोटक महिंद्रा बैंक की 100% Subsidiary है.

कोटक महिंद्रा इन्वेस्टमेंट wealth management, insurance, financial advisory & asset management, alternative assets, mutual funds & pension schemes, stock broking and foreign currency trade, इन सभी क्षेत्रो में काम करती है.

First Indian Insurance Company LIC of India भारतीय जीवन बीमा निगम

Cholamandalam

चोलामंगलम की शुरुआत वर्ष 1978 में हुई थी. Chola Mangalam, फाइनेंस से सम्बंधित सभी तरह का काम करती है.

Cholamangalam vehicle finance, home loans, home equity loans, SME loans, investment advisory services, stock broking और अन्य तरह के financial services ग्राहक को देती है.

Chola has 725 branches across India with assets under management above INR 35,000 Crores.

You May Also Read

What is Insurance in Hindi – बीमा क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

What is Ayushman Bharat Yojana in Hindi (ABY)?

शेयर मार्केट (Share Market) क्या है? Financial Guide in Hindi

What is CIBIL SCORE in Hindi सिबिल स्कोर क्या है?

Top 10 NBFC Companies in India से सम्बंधित कोई सुझाव, शिकायत या प्रश्न हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर शेयर करें. अन्य किसी जानकारी के लिए नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं.

यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो Spread the love Please Share...

Leave a Reply

Your email address will not be published.